गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथ्य Interesting facts about Republic Day of India

गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथ्य जानिए कुछ रोचक बातें Interesting facts about Republic Day of India

26 जनवरी 2020 में भारत में 71वां गणतंत्र दिवस (71th Republic Day) मनाया जाएगा। गणतंत्र दिवस पूरे भारत (India) में हर साल 26 जनवरी (26 January) को हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

भारत के तीन महत्वपूर्ण राष्ट्रीय पर्वों में से एक है, 26 जनवरी। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में पूरे देश में काफी जोश और सम्मान के साथ मनाया जाता है। यह, वह दिन है जब भारत में गणतंत्र और संविधान लागू हुआ था। भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 में लागु हुआ था और अब जो आने वाला है , वह 71 वा संविधान होगा |

इसे हम सभी राष्ट्रीय पर्व के रुप में मनाते है और इस दिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया है। इस दिन सभी सरकारी ऑफिस और अन्य संस्थाओं में भी छुट्टी होती है|

(Gantantra Diwas Photo)

गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है: Why we Celebrate Republic Day

इस दिन ‘वन्दे मातरम’ की मधुर गीत को हर स्कूल के बच्चे जरुर गान करते हैं|

दिल्ली (Delhi) में गणतंत्र दिवस पर काफी बड़ी मात्र में देश की नौजवानों द्वारा परेड होती है| देश कहर ताकत को यहाँ काफि सुन्दरता से प्रस्तूत किया जाता है|

ये दिन हमें देश के सहिदों की याद दिलाता है| ये दिवस हर देशवासी के जहन में देश प्रेमी की ज्योत जलाती है| आइए देश की इस ख़ास दिन को अपने दिल से नमन करते हैं|

क्योंकि इसी दिन भारत को एक गणतांत्रिक देश घोषित किया गया था साथ ही आजादी के लंबे संघर्ष के बाद भारतीयों को अपनी कानूनी किताब ‘संविधान’ की प्राप्ति हुई थी। 15 अगस्त 1947 को भारत आजाद हुआ और इसके ढ़ाई साल बाद ये लोकतांत्रिक गणराज्य के रुप में स्थापित हुआ। यह भारत के तीन राष्ट्रीय अवकाशों में से एक है, अन्य दो स्‍वतंत्रता दिवस और गांधी जयंती हैं।

गणतंत्र दिवस का इतिहास Know History of Republic Day , 26 जनवरी को भारत में झंडा कौन फहराता है

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज (Flag Hosting on Republic Day in India) को फहराया जाता हैं और इसके बाद सामूहिक रूप में खड़े होकर राष्ट्रगान गाया जाता है। गणतंत्र दिवस को पूरे देश में विशेष रूप से भारत की राजधानी दिल्ली में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है।

Facts about the Republic Day India

आजादी के बाद एक ड्राफ्टिंग कमेटी को 28 अगस्त 1947 की मीटिंग में भारत के स्थायी संविधान का प्रारुप तैयार करने को कहा गया। 4 नवंबर 1947 को डॉ बी.आर.अंबेडकर की अध्यक्षता में भारतीय संविधान के प्रारुप को सदन में रखा गया। 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन में संविधान बनकर तैयार हुआ। आखिरकार इंतजार की घड़ी 26 जनवरी 1950 को इसको लागू होने के साथ ही खत्म हुई। साथ ही पूर्णं स्वराज की प्रतिज्ञा का भी सम्मान हुआ।

Indian Army Indian army, India republic day parade

26 जनवरी 2020 पर भाषण Speech on 26 January 2020 for Republic Day

हमारे देश भारत में सन 26 जनवरी 1950 से इस तिथि को गणतंत्र दिवस के तौर पर मानते हैं| 26 जनवरी 2020 में भारत में 71वां गणतंत्र दिवस (71th Republic Day)मनाया जाएगा। गणतंत्र दिवस पूरे भारत (India) में हर साल 26 जनवरी (26 January) को हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

Happy Republic Day Speech in Hindi, English

अगर आप अपने विद्यालय में रिपब्लिक डे Republic Day (26th January 2020) Speech के अवसर पर स्पीच से शुरुआत कर रहे हो और आपको बोलने का अवसर मिला हो, तो एक सुनियोजित स्पीच कैसी हो? आइए, जानते हैं –

भारत का गणतंत्र दिवस का दिन भारत वर्ष के लिए स्वर्ण दिन था, इस दिन हमारा भारत एक पूर्ण लोकतान्त्रिक गणराज्य “भारत” बना.

भारत का संविधान (indian constitution) एक लिखित संविधान है। हमारे संविधान को बनने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था। 395 अनुच्छेदों और 8 अनुसूचियों के साथ भारतीय संविधान दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान है। 26 जनवरी 1950 को डॉ. राजेन्द्र प्रसाद (Dr. Rajendra prasad) ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार हॉल में भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी। भारत के पहले गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो थे।

What is the meaning of Republic Day? इस दिन का महत्व

‘गणतंत्र’ (Republic) का अर्थ है- देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति और सही दिशा में देश के नेतृत्व के लिए राजनीतिक नेता के रूप में अपने प्रतिनिधि को चुनने के लिए केवल जनता के पास अधिकार है। इसलिए भारत एक गणतंत्र देश है, जहां आम जनता अपना नेता, प्रधानमंत्री के रूप में चुनती है। भारत में ‘पूर्ण स्वराज’ के लिए हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने बहुत संघर्ष किया। उन्होंने अपने प्राणों की आहुति दी जिससे कि हमारी आने वाली पीढ़ी को कोई संघर्ष न करना पड़े और हम देश को आगे लेकर जा सकें।

Now we Speak about the some

गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथ्य Interesting facts about Republic Day (Gantantra Diwas)

A first at Republic Day 2020 parade Women BSF bikers to display daredevil

1)- केंद्र सरकार द्वारा इस मौके पर प्रत्येक वर्ष भारत समेत कई राष्ट्रों से अतिथियों को विशेष तौर पर आमंत्रित किया जाता है। खास बात ये है कि भीषण ठंड के बावजूद लोग सुबह चार-पांच बजे से ही परेड देखने के लिए पहुंचने लगते हैं।

2)- वर्ष 2015 में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा भी भारत के गणतंत्र दिवस परेड के साक्षी बन चुके हैं। बराक ओबामा अमेरिकन राष्ट्रपति के इतिहास में पहली बार इतने लंबे समय के लिए राजपथ पर खुले आसमान के नीचे होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

3)- 26 जनवरी पर गणतंत्र दिवस परेड की शुरूआत 1950 में आजाद भारत का संविधान लागू होने के साथ हुई थी। वर्ष 1950 से 1954 तक गणतंत्र दिवस की परेड राजपथ पर न होकर, चार अलग-अलग जगहों पर हुई थीं। 1950 से 1954 तक गणतंत्र दिवस परेड का आयोजन क्रमशः इरविन स्टेडियम (नेशनल स्टेडियम), किंग्सवे, लाल किला और रामलीला मैदान में हुआ था।

4)- 26 जनवरी 1950 को पहले गणतंत्र दिवस (Republic Day) समारोह में इंडोनेशिया के राष्ट्रपति डॉ. सुकर्णो विशेष अतिथि बने थे।

5)- 26 जनवरी 1955 में राजपथ पर आयोजित पहले गणतंत्र दिवस (Republic Day) समारोह में पाकिस्तान के गवर्नर जनरल मलिक गुलाम मोहम्मद विशेष अतिथि बने थे।

6)- गणतंत्र दिवस समारोह की शुरूआत राष्ट्रपति के आगमन के साथ होती है।

Do not Forget to Share this

गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

with your Friends on Facebook and Twitter about this article , So that they also know about this facts..

7)- राष्ट्रपति द्वारा ध्वाजारोहण (Flag Hosting) के वक्त उनके ये विशेष घुड़सवार अंगरक्षक समेत वहां मौजूद सभी लोग सावधान की मुद्रा में खड़े होकर तिरंगे को सलामी देते हैं और इसी के साथ राष्ट्रगान की शुरूआत होती है।

8)- 21 तोपों की सलामी वास्तव में भारतीय सेना (Indian Army) की 7 तोपों द्वारा दी जाती है, जिन्हें पौन्डर्स कहा जाता है।

9)- 26 जनवरी से पहले फुल ड्रेस रिहर्सल और समारोह के दौरान होने वाली परेड राजपथ से लाल किले तक मार्च करते हुए जाती है। रिहर्सल के दौरान परेड 12 किमी का सफर तय करती हैं, जबकि गणतंत्र दिवस की परेड के दौरान 9 किमी की दूरी तय करती हैं।

10)- भारतीय संविधान की दो प्रतियां हैं, एक अंग्रेजी में और एक हिंदी में. भारत के संविधान की दोनों प्रतियाँ हस्तलिखित हैं.

unknown facts about Republic day of India Kaisa laga aapko

11)- भारतीय संविधान ( Indian Constitution ) दुनिया में लिखा जाने वाला सबसे लंबा संविधान है. इसमें 22 लेख और 12 अनुसूचियों में विभाजित 444 लेख हैं.

12)- साल 1953 में पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में लोक नृत्य और आतिशबाजी को शामिल किया गया.

13)- सर्वश्रेष्ठ परेड की ट्रॉफी देने के लिए पूरे रास्ते में कई जगहों पर जजों को बिठाया जाता है।

14)- परेड में शामिल सभी झांकियां 5 किमी प्रति घंटा की नीयत रफ्तार से चलती हैं, ताकि उनके बीच उचित दूरी बनी रहे और लोग आसानी से उन्हें देख सकें।

15)- राजपथ पर मार्च पास्ट खत्म होने का बाद परेड का सबसे रोचक हिस्सा शुरू होता है, जिसे ‘फ्लाई पास्ट’ कहते हैं।

16)- भारत सरकार ने वर्ष 2001 में गणतंत्र दिवस समारोह पर करीब 145 करोड़ रुपये खर्च किए थे।

17)- भारत सरकार (India Government) ने वर्ष 2014 में ये खर्च बढ़कर 320 करोड़ रुपये पहुंच गया था।

18)- गणतंत्र दिवस (Republic Day) आयोजन की जिम्मेदारी रक्षा मंत्रालय की होती है।

19)- इस दिन विमानों द्वारा आसमान मे तीन रंग (केसरिया, सफ़ेद और हरा) उड़ाए जाते है जो हमारे तिरंगे का प्रतीक होता है तथा फूलों की भी इसी प्रकार से वर्षा होती है जो तिरंगे को दर्शाता है.

Barak Obama in India on Republic Day

26 जनवरी पर दिल्ली की परेड

भारत सरकार हर साल राष्ट्रीय राजधानी, नई दिल्ली में एक कार्यक्रम आयोजित करती है जिसमें इंडिया गेट पर खास परेड का आयोजन होता है। सुबह-सुबह ही इस महान कार्यक्रम को देखने के लिये लोग राजपथ पर इकट्ठा होने लगते है। इसमें तीनों सेनाएँ विजय चौक से अपनी परेड को शुरु करती है जिसमें तरह-तरह अस्त्र-शस्त्रों का भी प्रदर्शन किया जाता है। आर्मी बैंड, एन.सी.सी कैडेट्स और पुलिस बल भी विभिन्न धुनों के माध्यम से अपनी कला का प्रदर्शन करते है। राज्यों में भी इस उत्सव को राज्यपाल की मौजूदगी में बेहद शानदार तरीके से मनाया जाता है।

इस गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि

26 जनवरी 2020 को भारत के गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि कौन होंगे , Guest of Republic day 2020

इस साल, 26 जनवरी, 2020 को गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि के रूप में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो शामिल होंगे।
(President Jair Messias Bolsonaro) की यह पहली भारत यात्रा होगी.

24 से 27 जनवरी तक भारत यात्रा पर रहेंगे बोलसोनारो
विदेश मंत्रालय ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) के निमंत्रण पर ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर मेसियास बोलसोनारो 24 से 27 जनवरी तक भारत की यात्रा पर रहेंगे. वह 26 जनवरी को भारत की 71वीं गणतंत्र दिवस परेड में विशेष अतिथि होंगे.’’

Some

Indian Republic Day of India Quotes in Hindi

 

1)- आज सलाम है उन वीरों को
जिनके कारण ये दिन आता है
वो माँ भी खुशनसीब होती है
बलिदान जिसके बच्चों का देश के काम आता है

2)- कतरा कतरा दे दूंगा अपने वतन के लिए
रात और दिन बॉर्डर पर पहरा दूंगा अपने वतन के लिए
ये कुर्बानी है मेरी मेरे देश के लिए
जरुरत आने पर अपनी जान भी दूंगा अपने वतन के लिए

3)- मैं इसका हनुमान हूँ
ये देश मेरा राम है
छाती चीर के देश लो
अंदर बैठा हिंदुस्तान है

4)- ऐ बन्दे !
ना हिन्दू बन, ना मुस्लिम,
न भ्रष्टाचार का गुलाम,

5)- बस एक इंसान बन
कुछ ऐसे कर्म कर,
के खुद से कोई शर्म ना हो.

6)- आज जब तिरंगा देखा मैंने
मेरे वतन की याद आने लगी
आज जब राष्ट्रगान सुना मैंने
मुझे वतन की खुशबू सताने लगी

7)- ना जियों धर्म के नाम पर
ना मरो धर्म के नाम पर
इंसानियत ही हैं धर्म वतन का
बस जियों वतन के नाम पर
(Gantantra Diwas Ki Hardik Shubhkamnaye)

Republic Day Quotes in Hindi

गणतंत्र दिवस समारोह Republic day Celebration

Jaisa ki hum jante ha ki 26 जनवरी को Republic day समारोह पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता हैं और इसके बाद सामूहिक रूप में खड़े होकर राष्ट्रगान गाया जाता है। गणतंत्र दिवस (Republic day) को पूरे देश में विशेष रूप से भारत की राजधानी दिल्ली में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। इस अवसर के महत्व को चिह्नित करने के लिए हर साल एक भव्य परेड इंडिया गेट से राष्ट्रपति भवन (राष्ट्रपति के निवास) तक राजपथ पर राजधानी, नई दिल्ली में आयोजित किया जाता है।

71th Republic Day 2020 – 500 Words

इस भव्य परेड में भारतीय सेना के विभिन्न रेजिमेंट, वायुसेना, नौसेना आदि सभी भाग लेते हैं। इस समारोह में भाग लेने के लिए देश के सभी हिस्सों से राष्ट्रीय कडेट कोर व विभिन्न विद्यालयों से बच्चे आते हैं, समारोह में भाग लेना एक सम्मान की बात होती है। परेड (26 January Republic Day Parade 2020) प्रारंभ करते हुए प्रधानमंत्री अमर जवान ज्योति (सैनिकों के लिए एक स्मारक) जो राजपथ के एक छोर पर इंडिया गेट पर स्थित है पर पुष्प माला डालते हैं| इसके बाद शहीद सैनिकों की स्मृति में दो मिनट मौन रखा जाता है। यह देश की संप्रभुता की रक्षा के लिए लड़े युद्ध व स्वतंत्रता आंदोलन में देश के लिए बलिदान देने वाले शहीदों के बलिदान का एक स्मारक है। इसके बाद प्रधानमंत्री, अन्य व्यक्तियों के साथ राजपथ पर स्थित मंच तक आते हैं, राष्ट्रपति बाद में अवसर के मुख्य अतिथि के साथ आते हैं।

इस Blog mein में मैंने Republic Day Speech in Hindi का बेहतरीन कलेक्शन अपडेट करा है जिसको छात्र और अध्यापक अपने School और College में भाषण (Sppech) के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं.

अगर आपको Republic Day Speech of 26 January in Hindi से सम्बंधित किसी भी तरह का कोई प्रश्न या आप अपने विचार हमारे साथ साझा करना चाहते हो तो नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल करके अपने अनमोल विचार शेयर कर सकते हो.

अगर आपको 26 जनवरी पर भाषण अच्छा लगा हो तो इसे अन्य के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले.

धन्यवाद, जय हिन्द…!

Read below post also:

  1. तुलसी जी के स्तुति मन्त्र
  2. घऱ के किस दिशा मे कैलेंडर को लगाए वास्तु अनुरुप

One thought on “गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथ्य Interesting facts about Republic Day of India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: