Shiv Tandav Stotra कैसे रचना हुई शिव तांडव स्तोत्रम रावण द्वारा जानिए

Shiv Tandav Stotra कैसे रचना हुई शिव तांडव स्तोत्रम रावण द्वारा जानिए

शिव ताण्डव स्तोत्र (संस्कृत:शिवताण्डवस्तोत्रम्) महान विद्वान एवं परम शिवभक्त लंकाधिपति रावण द्वारा विरचित भगवान शिव का स्तोत्र है। Shiv Tandav Stotra

रावण अपने घर वापस लंका में भगवान शिव ले जाना चाहते थे। भगवान शिव ने रावण में अहंकार महसूस किया रावण ने अपनी शक्ति पर अहंकार था और इसी अहंकार में रावण ने कैलाश पर्वत उठा लिया तब महादेव को उसका अहंकार को ख़तम करने के लिए अपने अंगूठे से तनिक सा जो दबाया तो कैलाश फिर जहां था वहीं अवस्थित हो गया।

फिर क्या तब भक्त रावण का हाथ दब गया और वह आर्त्तनाद कर उठा – “शंकर शंकर” – और उसे अपनी गलती के एहसास हुआ और भगवन शिव से क्षमा मांगने लगा अर्थात क्षमा कर दीजिये , क्षमा करिए, और स्तुति करने लग गया; जो कालांतर में शिव तांडव स्तोत्रम कहलाया।

अपने प्रिय भगवान को खुश करने के लिए इस तरह के एक संगीत रूप में प्रार्थना की, क्योंकि वह एक महान विद्वान थे।

भगवान भोलेनाथ तोह भोले बाबा है सो क्या था, हमेशा की तरह आसानी से खुश हो गया। उन्होंने रावण को उस दर्द से बरी कर दिया।

यह शिव तांडव स्तोत्रम की उत्पत्ति थी

शिव तांडव स्तोत्र Shiv Tandav Stotra

भगवान शिव की शक्ति और सौंदर्य का वर्णन करता है।
जटाटवीगलज्जल प्रवाहपावितस्थले
गलेऽवलम्ब्य लम्बितां भुजंगतुंगमालिकाम्‌।
डमड्डमड्डमड्डमनिनादवड्डमर्वयं
चकार चंडतांडवं तनोतु नः शिवः शिवम ॥1॥

Source: WIki HIndi

इसे भी पढ़ें :

  1. पंचांग और दैनिक राशिफल इन हिंदी – 8 दिसम्बर 2017
  2. जानिए पवित्र शंख कैसे धन प्राप्ति में सहायक है तथा कैसे करे पूजन
  3. भगवान शिव की विशेष कृपा प्राप्ति हेतू Mantra
  4. मानव शरीर में 7 चक्रों से जुड़े देवी देवताओं
  5. जाने क्या हैं ॐ त्र्यंबकम् मंत्र का हिंदी में मतलब
  6. जानिए 12 ज्योतिर्लिंगों का महत्व व महिमा
  7. श्रीगणेश के आठ अवतारों की कथा के बारें में जानिये
  8. भगवान शिव के त्रिशूल (त्रिशुला) के बारे में कुछ रोचक तथ्य जानिए
  9. बाबा केदारनाथ महादेव के बारें में कुछ रोचक तथ्य
  10. Shiv शंकर के 108 नाम In Hindi
  11. Mahadev शिव शंकर,भोलेनाथ के बारे में रोचक तथ्य
  12. भगवान शिव के अनुसार जीवन की सच्चाई क्या है
  13. हनुमान जी ने लिखी थी रामायण जाने क्यों समुद्र में फेंक दी फिर

3 thoughts on “Shiv Tandav Stotra कैसे रचना हुई शिव तांडव स्तोत्रम रावण द्वारा जानिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: