29 सितंबर: नवरात्र का पहला दिन, अश्विन शुक्ल प्रतिपदा आज का हिन्दू पंचांग

आज का हिन्दू पंचांग मुहूर्त, हिन्दू कैलेंडर के अनुसार दिन के शुभ-अशुभ समय

29 सितंबर: नवरात्र का पहला दिन, अश्विन शुक्ल प्रतिपदा ,पंचांग या पंचागम् हिन्दू कैलेंडर है जो भारतीय वैदिक ज्योतिष में दर्शाया गया है। पंचांग मुख्य रूप से 5 अवयवों का गठन होता है, अर्थात् तिथि, वार, नक्षत्र, योग एवं करण। पंचांग मुख्य रूप से सूर्य और चन्द्रमा की गति को दर्शाता है। हिन्दू धर्म में हिन्दी पंचांग के परामर्श के बिना शुभ कार्य जैसे शादी, नागरिक सम्बन्ध, महत्वपूर्ण कार्यक्रम, उद्घाटन समारोह, परीक्षा, साक्षात्कार, नया व्यवसाय या अन्य किसी तरह के शुभ कार्य नहीं किये जाते ।

⛅ दिनांक 29 सितम्बर 2019
⛅ दिन – रविवार
⛅ विक्रम संवत – 2076 (गुजरात. 2075)
⛅ शक संवत -1941
⛅ अयन – दक्षिणायन
⛅ ऋतु – शरद
⛅ मास – अश्विन (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार भाद्रपद)
⛅ पक्ष – कृष्ण
⛅ तिथि – प्रतिपदा रात्रि 08:14 तक तत्पश्चात द्वितीया
⛅ नक्षत्र – हस्त रात्रि 07:08 तक तत्पश्चात चित्रा
⛅ योग – ब्रह्म शाम 04:10 तक तत्पश्चात इन्द्र
⛅ राहुकाल – शाम 04:44 से शाम 06:13 तक
⛅ सूर्योदय – 06:27
⛅ सूर्यास्त – 18:30
⛅ दिशाशूल – पश्चिम दिशा में
⛅ व्रत पर्व विवरण -शारदीय नवरात्र, धट-स्थापन
💥 विशेष – प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

हिन्दू पंचांग ~ aaj ka panchang

अच्छा समय/शुभ समय
अभिजीत नक्षत्र – अभिजीत मुहूर्त में भगवान ब्रह्मा का समावेश होता है तथा कोई भी शुभ कार्य करने के लिए इसे बहुत ही शुभ समय माना जाता है।

अमृत कालम – अमृत कालम को कोई भी शुभ कार्य प्रारम्भ करने के लिए बहुत ही शुभ माना जाता है।

भारतीय संस्कृति सभ्यता एवं परम्परा से जुडी बातें भी पढ़ें :

  1. Lord Shiva’s के दर्शन Darshan
  2. राजमा खाने के ये फायदे Health Benefits of Red Kidney Beans
  3. जानिए पौराणिक काल में चर्चित श्राप और उनके पीछे की कहानी
  4. महाकाल डेली दर्शन श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग जी का भस्म श्रंगार मंगला आरती दर्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: