विश्‍वकर्मा जयंती vishwakarma jayanti कब और क्यों मनाई जाती हैं? कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा?

विश्वकर्मा/विश्‍वकर्मा जयंती Vishwakarma jayanti 2020 कब और क्यों मनाई जाती हैं? कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा?

Vishwakarma jayanti 2020: हम अपने इस पोस्ट में आपको विश्‍वकर्मा जयंती कब और क्यों मनाई जाती हैं? कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा? के बारें में बतायंगे तोह आये जानते है भगवन विश्‍वकर्मा के बारें में. भगवान विश्वकर्मा को देवताओं का वास्तुशिल्पी माना जाता है। कहते हैं कि उन्होंने ही देवताओं के घर, नगर, अस्त्र-शस्त्र आदि का निर्माण किया था। वे महान शिल्पकार थे। आओ जानते हैं उनके द्वारा निर्मित 10 प्रमुख निर्माण। विश्‍वकर्मा जयंती in English vishwakarma Jayanti is a day of celebration for Vishwakarma, a Hindu god, the divine architect.

विश्‍वकर्मा जयंती कब और क्यों मनाई जाती हैं ? भगवान विश्वकर्मा के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में आज लोग अपने-अपने कार्यालय, फैक्ट्रियां और मशीनों की पूजा करते हैं. इसके साथ ही अस्त्र-शस्त्र और रोजगार या आपके पेशेवर जीवन में काम आने वाली मशीनों की भी पूजा कर सकते हैं.

विश्वकर्मा पूजा कब है Vishwakarma Puja in Hindu Calendar
भगवान विश्वकर्मा शिल्प के देवता माने जाते हैं, इसलिए शिल्पकला से जुड़े लोग उनकी जयंती को विधि-विधान से मनाते

विश्वकर्मा जयंती 2020 में कब है | कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा? About Vishwakarma Jayanti | Vishwakarma Jayanti 2020 date in Hindi | 

विश्वकर्मा जयंती 2020 भी 7 फरवरी को पड़ती है। विश्वकर्मा पूजा हर साल भगवान विश्वकर्मा की जन्मदिन के रूप में मनाई जाती है।
भगवान विशवकर्मा जी की वर्ष मे कई बार पुजा व महोत्सव मनाया जाता है। जैसे भाद्रपद शुक्ला प्रतिपदा इस तिंथि की महिमा का पुर्व विवरण महाभारत मे विशेष रूप से मिलता है। इस दिन भगवान विश्वकर्मा जी की पूजा अर्चना की जाती है।

who is Vishwakarma god in Hindi continuee..

यह शिलांग और पूर्वी बंगला मे मुख्य तौर पर मनाया जाता है। अन्नकुट (गोवर्धन पूजा) दिपावली से अगले दिन भगवान विश्वकर्मा जी की पुजा अर्चना (औजार पूजा) की जाती है। मई दिवस, विदेशी त्योहार का प्रतीक है। रुसी क्रांति श्रमिक वर्ग कि जीत का नाम ही मई मास के रुसी श्रम दिवस के रूप मे मनाया जाता है। 5 मई को ऋषि अंगिरा जयन्ति होने से विश्वकर्मा-पुजा महोत्सव मनाया जाता है भगवान विश्वकर्मा जी की जन्म तिथि माघ मास त्रयोदशी शुक्ल पक्ष दिन रविवार का ही साक्षत रूप से सुर्य की ज्योति है। ब्राहाण हेली को यजो से प्रसन हो कर माघ मास मे साक्षात रूप मे भगवान विश्वकर्मा ने दर्शन दिये।

कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा ? who is Vishwakarma god in Hindi ?

हिन्दू धर्म में भगवान विश्वकर्मा को निर्माण एवं सृजन का देवता माना जाता है। मान्यता है कि सोने की लंका का निर्माण उन्होंने ही किया था।
विश्वकर्मा को सबसे पहला इंजीनियर (Engineer) भी कहा जाता है

भगवान विश्वकर्मा vishwakarma  द्वारा बनाये गए महल

भगवान विश्वकर्मा द्वारा बनाये गए महल जैसे की नगर प्राचीन समय में 1.इंद्रपुरी, 2.लंकापुरी, 3.यमपुरी, 4.वरुणपुरी, 5.कुबेरपुरी, 6.पाण्डवपुरी, 7.सुदामापुरी, 8.द्वारिका, 9.शिवमण्डलपुरी, 10.हस्तिनापुर जैसे नगरों का निर्माण विश्‍वकर्मा द्वारा किया गया था|

Vishwakarma Puja 2020 ? क्यों की जाती है भगवान विश्‍वकर्मा की पूजा in Hindi

भगवान विश्‍वकर्मा की पूजा रह कारिगर करता है। भगवान हर कारिगर की रक्षा करते हैं और उनके इष्ट देव भी हैं। भगवान के भक्त चाहे किसी भी धर्म में चले गए हों लेकिन वे अपने ईष्ट देव को हमेशा याद रखते हैं। विश्‍वकर्मा दिवस या विश्‍वकर्मा जयंती पर्व का हिन्‍दू धर्म में विशेष स्थान है। पौराणिक ऐतिहासिक मान्‍यता के अनुसार है इस दिन भगवान विश्‍वकर्मा ने सृष्टि के रचयिता ब्रह्मा के सातवें धर्मपुत्र के रूप में जन्‍म लिया था। भगवान विश्‍वकर्मा को ‘देवताओं का शिल्‍पकार’, ‘वास्‍तुशास्‍त्र का देवता’, ‘प्रथम इंजीनियर’, ‘देवताओं का इंजीनियर’ और ‘मशीन का देवता’ कहा जाता है।

कैसे मनाते हैं भगवान विश्‍वकर्मा जयंती in Hindi 

विश्‍वकर्मा दिवस पर कारिगरों के बच्चे, परिजन आदि सुंदर कपड़े पहनते हैं। घरों में भगवान की पूजा करते हैं । घरों के अलावा दफ्तरों और कारखानों में इस दिवस को विशेष रूप से मनाया जाता है। जो लोग इंजीनियरिंग, आर्किटेक्‍चर, चित्रकारी, वेल्डिंग और मशीनों के काम से जुड़े हुए वे खास तौर से इस दिन को बड़े उत्‍साह के साथ मनाते हैं। कारिगर लोग बहुत ही प्रेम से मशीनों, दफ्तरों और कारखानों की सफाई करवाते है। भगवान विश्‍वकर्मा की मूर्तियों को सजाया जाता है। घरों में लोग अपनी गाड़‍ियों, कंम्‍प्‍यूटर, लैपटॉप व अन्‍य मशीनों की पूजा करते हैं। मंदिर में विश्‍वकर्मा भगवान की मूर्ति या फोटो की विधिवत पूजा करने के बाद आरती की जाती है। इसके बाद प्रशाद वितरण किया जाता है।


इन्हें भी पढ़ेः- MahaShivratri Kab Ki Hai जानें शुभ मुहूर्त, महत्व, पूजा विधि, कथा, मंत्र और आरती

भगवान विश्‍वकर्मा की आरती | Vishwakarma Puja Aarti in Hindi | आरती: श्री विश्वकर्मा जी

ॐ जय श्री विश्वकर्मा प्रभु जय श्री विश्वकर्मा।
सकल सृष्टि के कर्ता रक्षक श्रुति धर्मा ॥

आदि सृष्टि में विधि को, श्रुति उपदेश दिया।
शिल्प शस्त्र का जग में, ज्ञान विकास किया ॥

ऋषि अंगिरा ने तप से, शांति नही पाई।
ध्यान किया जब प्रभु का, सकल सिद्धि आई॥

रोग ग्रस्त राजा ने, जब आश्रय लीना।
संकट मोचन बनकर, दूर दुख कीना॥

जब रथकार दम्पती, तुमरी टेर करी।
सुनकर दीन प्रार्थना, विपत्ति हरी सगरी॥

एकानन चतुरानन, पंचानन राजे।
द्विभुज, चतुर्भुज, दशभुज, सकल रूप साजे॥

ध्यान धरे जब पद का, सकल सिद्धि आवे।
मन दुविधा मिट जावे, अटल शांति पावे॥

श्री विश्वकर्मा जी की आरती, जो कोई नर गावे।
कहत गजानन स्वामी, सुख सम्पत्ति पावे॥

विश्‍वकर्मा पूजा विधि | Biswakarma Puja Vidhi in Hindi | Vishwakarma Pooja Vidhi | कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा?

सबसे पहले स्‍नान करने के बाद अपनी गाड़ी, मोटर या दुकान की मशीनों को साफ कर लें.
– उसके बाद स्‍नान करें.
– घर के मंदिर में बैठकर विष्‍णु जी का ध्‍यान करें और पुष्‍प चढाएं.
– एक कमंडल में पानी लेकर उसमें पुष्‍प डालें.

– अब भगवान विश्‍वकर्मा का ध्‍यान करें.

– अब जमीन पर आठ पंखुड़‍ियों वाला कमल बनाएं.


अब उस स्‍थान पर सात प्रकार के अनाज रखें.
– अनाज पर तांबे या मिट्टी के बर्तन में रखे पानी का छिड़काव करें.
– अब चावल पात्र को समर्पित करते हुए वरुण देव का ध्‍यान करें.
– अब सात प्रकार की मिट्टी, सुपारी और दक्षिणा को कलश में डालकर उसे कपड़े से ढक दें.
– अब भगवान विश्‍वकर्मा को फूल चढ़ाकर आशीर्वाद लें.
– अंत में भगवान विश्‍वकर्मा की आरती उतारें.

विश्वकर्मा का कुल | विश्वकर्मा परिवार | Vishkarma Family in Hindi

विश्वकर्मा के पांच महान पुत्र: विश्वकर्मा के उनके मनु, मय, त्वष्टा, शिल्पी एवं दैवज्ञ नामक पांच पुत्र थे। ये पांचों वास्तु शिल्प की अलग-अलग विधाओं में पारंगत थे। मनु को लोहे में, मय को लकड़ी में, त्वष्टा को कांसे एवं तांबे में, शिल्पी को ईंट और दैवज्ञ को सोने-चांदी में महारात हासिल थी।

अगर आपको यह लेख पसंद आया, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!

One thought on “विश्‍वकर्मा जयंती vishwakarma jayanti कब और क्यों मनाई जाती हैं? कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: